Thursday , July 18 2019
Breaking News
Home / Country / हमारे बीच अब नहीं रहे हर दिल अज़ीज़, भारत रत्न अटल बिहारी बाजपेयी

हमारे बीच अब नहीं रहे हर दिल अज़ीज़, भारत रत्न अटल बिहारी बाजपेयी

हर दिल अज़ीज़ और भारत रत्न पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी बाजपेयी अब हमारे बीच नहीं रहे। आज शाम 5 बजकर 5 मिनट पर उन्होंने अंतिम सांस ली। दिल्ली के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान में पिछले 66 दिन से उनका इलाज चल रहा था। बुधवार को अचानक उनकी तबियत बेहद नाजुक हो गई और उन्हें लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर रखा गया था। बाजपेयी को सांस लेने में परेशानी, यूरीन और किडनी में संक्रमण होने के कारण 11 जून को भर्ती कराया गया था।
अटल जी तीन बार देश के प्रधानमंत्री रहे। वह पहले ऐसे गैर कांग्रेसी नेता थे जिन्होंने बतौर प्रधानमंत्री अपना कार्यकाल पूरा किया था। लालकृष्ण अडवाणी के साथ मिलकर इन्होंने भाजपा का गठन किया था। देश की राजनीति में अटल-आडवाणी की जोड़ी बहुत अच्छी साबित हुई। इनकी गिनती देश के उन चुनिंदा राजनीतिज्ञों में होती है जो अपनी दूरदर्शिता को लेकर मशहूर रहे हैं।
बाजपेयी जी का जन्म वैसे तो 25 दिसम्बर 1924 को मध्य प्रदेश के सिन्दे की छावनी में हुआ था लेकिन इनके पिता ने स्कूल के सर्टिफिकेट में जन्म की तारीख 25 जनवरी 1926 लिखवा दी। यह सोचकर नौकरी अधिक दिनों तक कर सकें। इसका खुलासा खुद बाजपेयी जी नें ग्वालियर के श्री नारायण तरटे को 7 जनवरी 1986 को लिखे एक पत्र में किया था। बाजपेयी के निधन की खबर आते ही उनके चाहनेवालों में शोक की लहर दौड़ गई। न केवल भाजपा बल्कि सभी राजनीतिक दलों के नेता उनके अन्तिम दर्शन के लिए दिल्ली के एम्स पहुँच रहे हैं।

About admin

Check Also

भारत की अर्थव्यवस्था को बड़ा झटका, मंदी के मिलने लगे संकेत, आयकर में 50 हजार करोड़ की कमी

नई दिल्ली:  देश की अर्थव्यवस्था मंदी की तरफ बढ़ रही है, क्योंकि कई प्रमुख आर्थिक …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *